संगीत सम्मलेन भाग ३:

उस्ताद मोहमद खान ने फिर अपने माथे पे हथेली रख झांक कर ऑडिटोरियम में बैठे हुए श्रोता गण की संख्या का  अंदाजा लगाया । बेचारा असलम खान ! बोर होते होते जम्भाई के अलावा और क्या करता  ? सज धज के एक जवान चुलबुली सी लड़की स्टेज पे तानपुरा बजाने हाजिर हुई।  ऐसे में  मोहन … More संगीत सम्मलेन भाग ३:

संगीत सम्मलेन भाग 2

छोटे शहरों की बात कुछ अलग होती है, उनकी समस्याएं भी अजीब।  बड़े उत्साह में रमेश भाई बोलने खड़े हुए की लाइट डूल ! पब्लिक को और मज़ा ! धुँधले प्रकाश में कुछ लोग खड़े हो गए । सिटीआं बजनी शुरू हो गयी । सर्वत्र आनंद  ही आनंद।  स्टेज पर चीफ गेस्ट हंसराज भाई और … More संगीत सम्मलेन भाग 2

संगीत सम्मेलन

शहर के रईस इलाके में स्थित हॉल आहिस्ता आहिस्ता भरा जा रहा था ” अरे मोहन भाई, क्या बात है? आप और यहां? क्लासिकल संगीत प्रोग्राम एटेंड करने आये है? “ मोहन भाई मुस्कुराये ” नहीं जी , में तो मेरे साले बंधू रमेश भाई को मिलने आया था तो उन्होंने कहा आ जाईये । … More संगीत सम्मेलन